कोरोना / देशभक्ति / सुविचार / प्रेम / प्रेरक / माँ / स्त्री / जीवन

डॉ॰ सत्यनारायण चौधरी 'सत्या'

डॉ॰ सत्यनारायण

सत्या

1 जुलाई, 1983

बारे में


सत्यनारायण चौधरी का जन्म 1 जुलाई, 1983 को राजस्थान के भरतपुर ज़िले के कलसाड़ा गाँव में एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ। पिता श्री सियाराम हँसावत इनके जन्म के बाद राजस्थान पथ परिवहन निगम में परिचालक नियुक्त हुए। माँ श्रीमती शान्ति देवी गृहणी हैं।
पिता का संघर्षमय जीवन व माँ के धार्मिक संस्कारों ने इनके जीवन पर अमिट छाप छोड़ी। एक बड़ी बहन व दो बड़े भाइयों के बाद इनकी एक छोटी बहन है। पत्नी डॉ॰ अर्चना तिवारी राजस्थान विश्वविद्यालय में इतिहास विभाग में सहायक आचार्य पद पर कार्यरत है।

सत्यनारायण चौधरी की प्रारंभिक शिक्षा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कलसाड़ा में हुई। बारहवीं कक्षा तक गाँव के ही सरकारी विद्यालय में इनका अध्ययन कार्य हुआ। उसके बाद उच्च शिक्षा राज्य की राजधानी पिंकसिटी जयपुर में राजस्थान महाविद्यालय व राजस्थान विश्वविद्यालय से स्नातक व स्नातकोत्तर (हिंदी साहित्य व दर्शनशास्त्र) की डिग्री हासिल की। माता-पिता का आदेश में सिविल सर्विसेज की तैयारी की परन्तु अंतिम परिणाम में असफल रहने पर शिक्षण क्षेत्र में रुचि होने के कारण शिक्षा विषय में भी स्नातक व स्नातकोत्तर की शिक्षा प्राप्त की। कोटा विश्वविद्यालय कोटा से "राजस्थान में हिंदी पत्रकारिता व जनचेतना" विषय पर पीएचडी की उपाधि प्राप्त की। इस विषय पर इनके अनेक आलेख प्रकाशित हो चुके हैं और पुस्तक प्रकाशनाधीन है।


लघुकथा (1)



कविता (10)



            

रचनाएँ खोजें

रचनाएँ खोजने के लिए नीचे दी गई बॉक्स में हिन्दी में लिखें और "खोजें" बटन पर क्लिक करें