कोरोना / देशभक्ति / सुविचार / प्रेम / प्रेरक / माँ / स्त्री / जीवन



विधा/विषय " - पंचचामर छंद"

माँ अम्बे स्तुति - अभिनव मिश्र 'अदम्य'
  सृजन तिथि : 25 मार्च, 2021
नमामि मातु अम्बिके त्रिलोक लोक वासिनी! विशाल चक्षु मोहिनी पिशाच वंश नाशिनी!! समस्त कष्ट हारिणी सदा विभूति कारिणी!

Load More

            

रचनाएँ खोजें

रचनाएँ खोजने के लिए नीचे दी गई बॉक्स में हिन्दी में लिखें और "खोजें" बटन पर क्लिक करें